होम राजनीति-चुनाव खेल गाँव-किसान राज्य-प्रदेश देश-विदेश वीडियोज धर्म-ज्योतिष बिजनेस खबरें और भी सुर्खियां टेक-वर्ल्ड
×
अडानी ग्रुप के लिए बड़ा दिन, हिंडनबर्ग के आरोपो पर SEBI की ज...

अडानी ग्रुप के लिए बड़ा दिन, हिंडनबर्ग के आरोपो पर SEBI की जांच रिपोर्ट फाइनल... आज सुप्रीम कोर्ट को सौंपेगा!

...

Excutive Editor

14 अगस्त 2023, दोपहर 11:15


24 जनवरी को हिंडनबर्ग रिसर्च ने अडानी ग्रुप पर अब तक के सबसे बड़े अकाउंटिंग फ्रॉड और शेयरों में हेरफेर का आरोप लगाया था. जिसके बाद अडानी ग्रुप कंपनियों के शेयरों में बड़ी गिरावट देखने को मिली थी और मार्केट कैप 10 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा साफ हो गए थे. 

अडानी हिंडनबर्ग मामले में सेबी ने फिर से सुप्रीम कोर्ट से समय मांगा है. मार्केट रेगुलेटर ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल किए अपने आवेदन में कहा कि केस पर पर्याप्त काम किया गया है और रिपोर्ट 15 दिनों के बाद रिपोर्ट सौंपी जाएगी. सेबी इस मामले में कथित शेयर बाजार हेरफेर और शॉर्ट-सेलर के संचालन के तरीके सहित अडानी-हिंडनबर्ग इश्यू की जांच कर रही है.

सुप्रीम कोर्ट ने सेबी को 14 अगस्त तक का समय दिया था और 29 अगस्त को सुनवाई की तारीख तय की गई थी. इसका मतलब है कि सेबी इस मामले की फाइनल रिपोर्ट 29 अगस्त को ही सौंपेगी.इससे पहले डेयलॉयट ने अडानी एसईजेड के ऑडिटर के रूप में अपना इस्तीफा सौंपा था. जिसकी वजह से सोमवार को अडानी ग्रुप के सभी शेयरों में गिरावट देखने को मिल रही है.

डेलॉयट ने सौंपा इस्तीफा

इससे पहले डेलॉयट ने अडानी एसईजेड के ऑडिटर के तौर पर अपना इस्तीफा सौंप दिया है. इस्तीफा देने से पहले डेलॉयट ने अमेरिकी शॉर्टसेलर हिंडनबर्ग रिसर्च के आरोपों की बाहर से स्वतंत्र जांच कराने की मांग की थी. कंपनी ने हालांकि कहा कि आरोपों का वित्तीय लेखा-जोखा पर कोई असर नहीं पड़ा था और डेलॉयट के छोड़कर जाने के लिए बताया गया कारण संतोषजनक नहीं था. अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशन इकोनॉमिक जोन (एपीएसईजेड) ने शेयर बाजार को भेजे 163 पन्नों की रिपोर्ट में डेलॉयट हास्किंस एंड सेल्स एलएलपी का इस्तीफा भेजा था.

एपीएसईजेड ने कहा कि डेलॉयट के अधिकारियों ने बैठक में अडानी समूह की दूसरी लिस्टिड कंपनियों के ऑडिटर के रूप में व्यापक ऑडिट भूमिका की कमी पर चिंता व्यक्त की. हालांकि, फर्म ने ऑडिटर को बताया कि ऐसी नियुक्तियों की सिफारिश करना उसके अधिकार क्षेत्र में नहीं है क्योंकि अन्य संस्थाएं पूरी तरह से स्वतंत्र हैं.

अडानी ग्रुप कंपनियों के शेयरों में गिरावट

सोमवार को अडानी ग्रुप कंपनियों के शेयरों में गिरावट देखने को मिल रही है. अडानी इंटरप्राइजेज का शेयर 4.50 फीसदी से ज्यादा की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है. वहीं दूसरी ओर अडानी पोर्ट एंड एसईजेड के शेयर में 2.75 फीसदी कीर गिरावट देखने को मिल रही है. अडानी पॉवर, अडानी ग्रीन और अडानी टोटल गैस एवं और अडानी विल्मर के शेयरों में 2 फीसदी से ज्यादा और अडानी ट्रांसमिशन के शेयर में 3.50 फीसदी की गिरावट आ चुकी है. सीमेंट कंपनियों की बात करें तो एसीसी के शेयर में 2 फीसदी और अंबूजा सीमेंट के शेयर में 3.50 फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही है. एनडीटीवी के शेयरों में डेढ़ फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही है.

 

 

सम्बंधित खबर
ताजा खबर
ब्रेकिंग न्यूज़