लोकसभा चुनाव को लेकर AAP की तैयारी शुरू, CM अरविंद केजरीवाल ने भारत को अमीर बनाने के लिए दिया 4 सूत्रीय फॉर्मूला, कहा- मुफ्त शिक्षा देना फ्री-बी नहीं

0
50

CM Arvind Kejriwal: आप पार्टी के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सीएम अरविंद केजरीवाल इस कैंपेन लॉन्च के बाद इसे पूरे देश में भी लेकर जाएंगे. कैंपेन का फोकस लोकसभा चुनाव माना जा रहा है.

Lok Sabha Election 2024: आम आदमी पार्टी (AAP) अब लगातार पूरे देश में तेजी से पैर पसार रही है. पंजाब चुनाव में मिली बड़ी जीत के बाद से ही पार्टी से जुड़े नेताओं और कार्यकर्ताओं में काफी जोश है. इसी जोश को आगे बढ़ाते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) बुधवार को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में एक बड़ा राष्ट्रीय कैंपेन लॉन्च करने जा रहे हैं. इस कैंपेन का फोकस 2024 लोकसभा चुनाव माना जा रहा है. मिली जानकारी के मुताबिक पार्टी का ये कैंपेन  ‘मेक इंडिया नंबर 1’ की थीम पर शुरू किया जाएगा. 

आप पार्टी के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सीएम अरविंद केजरीवाल इस कैंपेन लॉन्च के बाद इसे पूरे देश में भी लेकर जाएंगे. आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल अलग-अलग राज्यों में कार्यकर्ताओं और लोगों के बीच इस कैंपेन को खुद आगे बढ़ाने की तैयारी में है. सूत्रों ने यह भी बताया कि सीएम केजरीवाल और उनकी पार्टी 2024 के चुनाव में बेहद संजीदगी के साथ उतरेगी और पार्टी की कोशिश होगी कि इस बार राष्ट्रीय राजनीति में खुद के लिये एक बड़ी जगह बना सके. बता दें कि सीएम केजरीवाल ‘मेक इंडिया नंबर 1′ नाम की जिस थीम को लॉन्च करने की तैयारी में है उसका जिक्र वो काफी समय से लगातार अपने भाषणों में भी करते रहे हैं. 

एक दिन पहले ही दिल्ली सरकार के स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने संबोधन में भी कहा कि हमें आजादी मिले 75 साल हो गए लेकिन अभी भी हम काफी पीछे रह गए हैं जबकि कई ऐसे देश है जिन्होंने बेहद कम समय में काफी सफलता हासिल कर ली है. सीएम केजरीवाल ने इस दौरान कहा कि हमारे देश में किसी भी चीज की कमी नहीं है बावजूद इसके हम 75 सालों में वो मुकाम हासिल नहीं कर पाए जो हमें करना चाहिए था. उन्होंने कहा कि अब हमें भारत को विश्व में नंबर वन देश बनाना होगा. इतना ही नहीं अरविंद केजरीवाल ने आज भी एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि मेरी जिंदगी का एक सपना है कि जीते जी भारत को दुनिया का नंबर 1 देश देखना चाहता हूं. 

‘भारत एक अमीर देश बने’
सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं चाहता हूँ कि भारत एक अमीर देश बने. जब हर एक भारतवासी अमीर बनेगा तब हिंदुस्तान अमीर बनेगा. भारत को अमीर बनने के लिए हर इंडिया के लोगों को अमीर बनाना होगा और हर गरीब को अमीर बनाना होगा. मुख्यमंत्री  केजरीवाल ने कहा कि गरीब मजदूर है वो अपने बच्चे को सरकारी स्कूल में भेजता है लेकिन वहां स्कूल ठीक नहीं है. एक गरीब का बच्चा अगर सरकारी स्कूल में जाता है और स्कूल को अच्छा कर देते हैं तो गरीब का बच्चा शानदार पढ़ाई करके अच्छा इंजीनियर, बिजनेसमैन बन सकता है. अब देश को नंबर वन बनाने के लिये हम सबको एक साथ प्रयास करना होगा.

मुफ्त की रेवड़ी कहना गलत- सीएम केजरीवाल
अरविंद केजरीवाल की इन बातों में इशारा साफ़ है कि इस बार चुनाव में आम आदमी पार्टी इसी मुद्दे के साथ उतरेगी यही वजह है कि इसी थीम पर कैंपेन लॉन्च किया जा रहा है. इसकी बड़ी वजह ये भी है कि पिछले कुछ दिनों से देश में इस बात को लेकर भी काफी बहस छिड़ी हुई है कि देश में मुफ़्त सुविधाएं बांटने वाली राजनीति क्या ठीक है?  दरअसल हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में कहा था कि  देश में जो मुफ़्त में रेवड़ी बांटने का कल्चर चल रहा है वो देश के लिये खतरनाक साबित हो सकता है. जिसके बाद इसको लेकर आप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी को आड़े हाथों लेते हुए कहा था कि दिल्ली और पंजाब में आप की सरकार लोगों को शिक्षा और स्वास्थ्य मुफ्त में दे रही है और इसी से गरीब का विकास हो सकता है. 

लोकसभा चुनाव की तैयारी
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक आम आदमी पार्टी का ये कैंपेन पार्टी को पूरे देशभर में एक नयी पहचान देने का काम करेगा. साथ ही 2024 का पूरा चुनाव पार्टी इसी आधार पर लड़ेगी. आम आदमी पार्टी की इस कवायद से अब लोगों के मन में कई सवाल भी खड़े होने लगे है. सवाल ये कि क्या अरविंद केजरीवाल 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव की तैयारी कर रहे हैं? क्या आम आदमी पार्टी कांग्रेस की जगह बीजेपी के खिलाफ मुख्य विकल्प के तौर पर अपनी जमीन तैयार कर रही है? हालांकि इन सभी सवालों पर आम आदमी पार्टी फिलहाल पूरे पत्ते नहीं खोलना चाहती लेकिन सीएम अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी की दूसरी राज्यों में सक्रियता इस तरफ़ इशारे जरूर कर रही है.

लोकसभा चुनाव में आप की क्या भूमिका होगी?
साल 2024 में AAP की क्या भूमिका रहने वाली है? इस सवाल के जवाब में आम आदमी पार्टी से जुड़े नेता कहते कि कांग्रेस का अब सफाया होता जा रहा है, कांग्रेस अब कहीं नहीं है. कांग्रेस के नेता आपस में लड़ रहे हैं वो बीजेपी से क्या लड़ेंगे. ऐसे में राष्ट्रीय विकल्प के तौर पर अब कांग्रेस नहीं है, ये जनता तय करेगी कि आप किस की जगह लेगी बीजेपी या कांग्रेस की. साल 2024 लोकसभा चुनाव में भले ही अभी करीब 2 साल का समय बचा है लेकिन AAP का बढ़ती सक्रियता से ये साफ़ जरूर है कि अंदरखाने बीजेपी को सत्ता से बाहर करने के लिए सभी दलों ने तैयारी शुरू कर दी है. इस बीच इस बात पर चर्चा जरूर बढ़ गयी कि आख़िर इस बार मोदी के सामने विपक्ष के तौर पर चेहरा किसका होगा? क्या ये चेहरा अरविंद केजरीवाल का होगा? और सवाल ये भी क्या सीएम अरविंद केजरीवाल एक अलग मोर्चे की अगुवाई करेंगे.

गुजरात और हिमाचल चुनाव की तैयारी
दरअसल पंजाब में बड़ी जीत के बाद आम आदमी पार्टी दूसरे राज्यों में भी चुनाव लड़ने का एलान कर चुकी है. पार्टी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में होने विधानसभा चुनाव में सभी सीटों पर चुनाव लड़ने का घोषणा कर चुकी है और बाक़ी राज्यों में भी अपना विस्तार करना शुरू कर दिया है. इसके अलावा आम आदमी पार्टी ने हाल ही में केरल की एक क्षेत्रीय पार्टी 20-20 और गुजरात की आदिवासी पार्टी भारतीय ट्राइबल पार्टी (BTP) से गठबंधन कर लिया है. इस समय आम आदमी पार्टी को विकल्प के तौर पर इसलिये भी देखा जा रहा है क्योंकि इस वक्त कांग्रेस के बाद एक से अधिक राज्यों में अगर किसी पार्टी की सरकार है तो वो आम आदमी पार्टी की ही है. इस बीच कांग्रेस का गिरता ग्राफ और आम आदमी पार्टी के बढ़ते ग्राफ को देखते हुए भी 2024 में कांग्रेस और AAP की भूमिका को लेकर भी अभी से कयास लगने शुरू हो गए है. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here