बेहतर कार्यशैली, मधुर व्यवहार और अपने यूनीक स्टाइल की वजह से लोगों के चहेते बने हुए है उन्नाव से क्षेत्राधिकारी नगर आशुतोष कुमार

0
267

उन्नाव:- उत्तर प्रदेश पुलिस में ऐसे कई अधिकारी हैं जो अपनी बेहतर कार्यशैली को लेकर हमेशा चर्चाओं में रहते हैं। कभी किसी केस को सॉल्व करके तो कभी अपने यूनीक स्टाइल की वजह से तो कभी जनता और लोगों के प्रति अपने मधुर व्यवहार की वजह से। ऐसे ही अधिकारियों में से एक हैं जनपद उन्नाव में वर्तमान समय में क्षेत्राधिकारी नगर आशुतोष कुमार जो अपने क्षेत्र के लोगों की शिकायतों को बखूबी सुनते भी है और पीड़ितों को शीघ्र ही न्याय दिलाने का प्रयास भी करते है। क्षेत्र की जनता उनके मधुर व्यवहार और बेहतर कार्यशैली की काफी तारीफ भी करती है।

उत्तर प्रदेश से 2016 बैच के पीसीएस अधिकारी आशुतोष कुमार मूल रूप से जनपद प्रयागराज के रहने वाले है और बहुत ही ईमानदार अधिकारियों में से एक माने जाते है और जनता के प्रति अपनी बेहतर कार्यशैली की वजह से भी जाने जाते है। क्षेत्राधिकारी नगर आशुतोष कुमार से क्षेत्र की जनता काफी खुश है और अपने व्यवहार में मधुरता के चलते सभी के प्रशंसा के पात्र हो रहे हैं और वह स्वयं अपने अधीनस्थों से समय-समय पर बैठककर कार्य को लम्बित न रखने तथा जनता की समस्या का समाधान, सौहार्द और सामंजस्य बढाते हुए एक आदर्श अधिकारी के रूप में सबके चहेते बने हुए हैं।

आशुतोष कुमार की बेहतर कार्यशैली की वजह से क्षेत्र की जनता काफी खुश है तो वही मौरंग माफियाओ में मचा हुआ है हड़कंप

जनपद उन्नाव में लखनऊ-कानपुर नेशनल हाईवे पर अवैध रूप से कुछ माफिया मौरंग मंडी लगाते हैं और इस दौरान हाइवे पर ही भारी संख्या में ट्रक खड़े रहते हैं। अक्सर रात को और सुबह के वक़्त इन ट्रकों में लोग टकरा जाते हैं और हादसे भी अक्सर होते रहते हैं। क्षेत्राधिकारी नगर आशुतोष कुमार के चार्ज संभालते ही उनके द्वारा अवैध रूप से मौरंग मंडी लगाने वाले मौरंग माफियाओ के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है जिसकी वजह से मौरंग माफियाओ में हड़कंप मचा हुआ है तो वही क्षेत्र की जनता क्षेत्राधिकारी नगर आशुतोष कुमार की बेहतर कार्यशैली की वजह से काफी खुश है।

चेकिंग के दौरान ट्रक में पाए गए दो नाबालिग क्लीनरों को बैग, कॉपी और किताबें देकर पढ़ाई के लिए किया प्रेरित

क्षेत्राधिकारी नगर आशुतोष कुमार उस वक़्त काफी चर्चा में आए जब कुछ दिन पूर्व वह उन्नाव में लखनऊ-कानपुर नेशनल हाईवे पर ओवरलोड ट्रकों की चेकिंग कर रहे थे और इस दौरान जनपद औरैया निवासी दो नाबालिग बच्चे ट्रक में पाए गए थे और वह दोनों ट्रक में क्लीनर का काम करते थे। यह देख क्षेत्राधिकारी नगर आशुतोष कुमार ने दोनों के परिजनों से फोन से बात की और बच्चों से काम करवाने की जगह शिक्षा दिलाने की बात कही इसके साथ ही साथ उन्होंने उन बच्चों को बैग, कॉपी और किताबें मंगाकर दोनों बच्चों को दीं और पढ़ाई के लिए प्रेरित भी किया। क्षेत्राधिकारी नगर आशुतोष कुमार के इस कार्य को लेकर लोगों ने काफी सराहाना भी की थी विशेषकर छात्रों ने।

पुलिस अधीक्षक पुरस्कार देकर कर चुके है सम्मानित

क्षेत्राधिकारी नगर आशुतोष कुमार के नेतृत्व में कुछ दिन पूर्व पुलिस ने गंगाघाट कोतवाली के अंतर्गत ट्रांस गंगासिटी के गेट के पास से दो गांजा तस्कर को गिरफ्तार किया था और इसके साथ ही साथ दो क्विंटल गांजा भी बरामद किया था और इस सराहनीय कार्य को देखते हुए पुलिस अधीक्षक दिनेश त्रिपाठी ने क्षेत्राधिकारी नगर आशुतोष कुमार और उनकी टीम को पंद्रह हजार रुपये पुरस्कार देकर सम्मानित भी किया है।

कुलदीप वर्मा की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here