प्रधानमंत्री से मिली प्रेरणा, देश-दुनिया में दिखेगा उन्नाव के घर-घर तिरंगे का ब्योरा

0
58

उन्नाव:- 15 अगस्त को देश आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाने जा रहा है। इसके लिए वृहद तैयारियां की जा रही हैं। केंद्र सरकार के निर्देश पर हर घर तिरंगा-घर-घर तिरंगा कार्यक्रम जनपद में पूरे जोश के साथ मनाने की तैयारी प्रशासन और जनता ने की है। इसमें कम से कम सात लाख तिरंगा फहराए जाने के लिए वितरित किया जाएगा। तिरंगा वितरण की पूरी प्रक्रिया निर्बाध और सुचारू रूप से चल सके, इसके लिए सीडीओ दिव्यांशु पटेल ने एक डिजिटल डैशबोर्ड एनआईसी उन्नाव के माध्यम से डिज़ाइन कराया है। इस डैशबोर्ड के माध्यम से कितने ब्लॉक में, किस गांव में तिरंगा वितरित हुआ इसकी रियल टाइम जानकारी जनपद मुख्यालय पर मिलती रहेगी। साथ ही इस डैशबोर्ड में जिलेवाली सेल्फी और वीडियो भी पोस्ट कर सकेंगे।

डिजिटल मैपिंग के लिए क्यूआर कोड

यह व्यवस्था तैयार की है जनपद के मुख्य विकास अधिकारी दिव्यांशु पटेल ने। सीडीओ ने लगातार दो दिन तक इस बाबत कड़ी मेहनत करने के बाद जिले का एक यूनिक स्टिकर तैयार कर उसे क्यूआर कोड से लिंक कर उसे जिला स्तर पर लांच करने की योजना बनाई है। जिस पर स्कैनिंग करते ही यह स्टिकर डाउनलोड हो सकेगा, इस कवायद के माध्यम से हर घर तिरंगा अभियान को उन्नाव में डिजिटली अधिकतम डिवाइसों में पहुचाने की सोच सीडीओ उन्नाव की है। इसकी मैपिंग के लिए भी एक डैशबोर्ड होगा जहां कुल स्कैन की संख्या, कहां से हुआ, किस प्रकार की डिवाइस से हुआ ,ये सब जाना जा सकेगा। इस अभियान को डिजिटल उन्नाव – डिजिटल तिरंगा अभियान नाम दिया है। माना जा रहा है कि राष्ट्रप्रेम व निष्ठा को साबित प्रमाणित करने वाली सीडीओ की यह पहल देश में अनूठी व पहली होगी। सीडीओ ने अमृत महोत्सव वर्ष में उन्नाव में हो रहे जन कल्याणकारी कदमों को समेकित रूप से “उर्जित उन्नाव, गर्वित भारत “ नारे में समेटा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here