उन्नाव में बच्चों को समोसे में नशा देकर दलित महिला संग गैंगरेप

0
50

उन्नाव:- जनपद उन्नाव के पुरवा कोतवाली क्षेत्र के बैगांव गांव स्थित लाखन धोबी पुल के पास दो भाइयों ने 10 दिन पहले बच्चों संग मायके जा रही महिला को तमंचा लगाकर कार से अगवा कर लिया। उसके बाद बच्चों को नशीला समोसा खिलाकर अचेत कर दिया और मां के साथ दुष्कर्म किया।

दोनों से के चंगुल से छूटने के बाद पीड़िता ने कोतवाली पहुंचकर शनिवार को पुलिस में तहरीर दी। पुलिस ने महिला को मेडिकल जांच के लिए भेज दोनों भाइयों पर दुष्कर्म व एससी-एसटी एक्ट समेत अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज तलाश शुरू कर दी है।

पुरवा कोतवाली क्षेत्र के एक गांव की दलित महिला ने तहरीर दी है कि 21 जुलाई की शाम अपने तीन बच्चों के साथ मायके जा रही थी। बैगांव में लाखन धोबी के पुल के पास एक गांव निवासी इदल सिंह उर्फ छोटू व उसका भाई लाखन सिंह ने तमंचा लगा कर उसे रोक लिया और पीछे से आई कार में उसे जबरन बिठा लिया। उसके बाद हाथ पैर बांध दिया।

महिला के अनुसार अज्ञात स्थान पर बनी किसी अंधेरी कोठरी में पूरी रात बंद रखा। उसके साथ मौजूद तीनों बच्चों को समोसे में कुछ मिलाकर खिला दिया। बच्चे के बेहोश होने पर दोनों भाइयों ने उसके साथ रातभर दरिंदगी की।

सुबह मौका पाकर वह बच्चों को लेकर भाग निकली और दही थाने के पास से टेम्पो से पुरवा कोतवाली पहुंची, जहां दोनों भाई पहले से खड़े थे। डरवश वह थाने नहीं गई और वह अपने मायके चली गई। उसने अपने परिजनों को आपबीती बताई। परिजनों के साथ उसने शनिवार को कोतवाली पहुंच कर शिकायती पत्र दिया है। इंस्पेक्टर चंद्रकांत सिंह ने बताया कि रविवार को दोनों भाइयों के खिलाफ गैंगरेप की रिपोर्ट दर्ज की गई। जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here