उन्नाव में मारपीट के आरोपी राजेश बाजपेयी के शस्त्र लाइसेंस होंगे निरस्त

0
33

उन्नाव:- जनपद उन्नाव में दलित युवक को पीटने वाले आरोपितों पर प्रशासन का शिकंजा कसता जा रहा है। कोतवाली पुलिस ने असलहा निरस्तीकरण के लिए जिलाधिकारी रवींद्र कुमार को पत्र लिखा है तो वही जिला कारागार में दोनों आरोपितों राजेश बाजपेयी और गौरव अग्निहोत्री को कोविड वैरक रखा गया। उन्नाव शहर के पूरबखेड़ा मोहल्ला निवासी विशाल सिंह के घर में घुसकर राजेश बाजपेयी और गौरव अग्निहोत्री सहित पांच लोगों ने पिटाई कर दी थी। पुलिस ने इस मामले में रिपोर्ट दर्ज करने के बाद बुधवार को आरोपितों को जेल भेजा गया। आरोपितों पर कार्रवाई के लिए लिए सदर इंस्पेक्टर राजेश पाठक ने राजेश बाजपेयी के लाइसेंसी असलहों के निरस्तीकरण के लिए जिलाधिकारी को पत्र भेज दिया है। जिलाधिकारी के आदेश के बाद असलहों का निरस्तीकरण किया जाएगा। वहीं, आरोपित से अर्पित की गई सम्पत्ति आदि की जांच पड़ताल के लिए टीमों का गठन किया गया है। टीमों लगातार छानबीन में जुटी हुई हैं।

बंदियों को कोरोना वार्ड में गया रखा, आवश्यक सामग्री पहुंचाई गई

नवागत जेल अधीक्षक राम शिरोमणि यादव ने बताया कि जिला कारागार में गुरुवार सुबह बंदी राजेश बाजपेई के परिजन आवश्यक सामग्री आदि लेकर आए थे। पुलिस कर्मियों ने सामग्री की जांच पड़ताल कर बंदी तक पहुंचा दी गई थी। बुधवार कोर्ट के आदेश पर जिला कारागार भेजे गए दोनों बंदियों में राजेश बाजपेई व गौरव अग्निहोत्री को कोरोना वार्ड में रखा गया। कोविड जांच रिपोर्ट आने के बाद सामान्य बैरक में स्थानांतरित किया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here