उन्नाव में बाप-बेटों ने लाठी से पीटकर की युवक की हत्या, पिता की तहरीर पर बाप-बेटों सहित एक अज्ञात पर हत्या का केस दर्ज जिसमें से एक गिरफ्तार

0
53

उन्नाव (असोहा):- थाना क्षेत्र के कांथा गांव के युवक की शनिवार रात पिता-पुत्रों ने लाठी से पीट-पीटकर हत्या कर दी। एएसपी ने बताया कि रुपये के लेनदेन को लेकर पहले हुए विवाद के चलते वारदात हुई है। पिता की तहरीर के आधार पर हत्या का केस दर्ज कर एक आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। कांथा गांव के गुड्डू लोधी शनिवार सुबह खेत पर ट्यूबवेल से पानी लगाने गया था। शाम घर पहुंचा और खाना खाने के बाद दोबारा बाइक से खेत जा रहा था। वह सुनील मौर्य के मकान के सामने पहुंचा तो पड़ोसी संतराम व उसके दो बेटे कुलदीप, संदीप और एक अन्य गुड्डू पर लाठी से हमला बोल दिया। जानकारी पर परिजन घायल गुड्डू को सीएससी ले गए। डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। देर रात परिजनों ने पुलिस को सूचना दी। गुड्डू के पिता रामकुमार ने पड़ोसी संतराम व उसके बेटे कुलदीप व संदीप तथा एक अज्ञात को नामित कर पुलिस में हत्या की तहरीर दी। पुलिस ने चारों के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। एसपी शशि शेखर सिंह ने बताया कि केस दर्ज कर कुलदीप को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य की तलाश जारी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

आठ चोट की पुष्टि: पोस्टमार्टम रिपोर्ट में लैंस व लीवर फटने से मौत की पुष्टि हुई है। शरीर पर चोट के आठ निशान मिले। मारपीट में पसलियों की हड्डियां टूटी पाई गई हैं। पुलिस देखरेख में परिजनों ने गांव के बाहर खेत में शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया है।

कुलदीप पर पहले दर्ज हो चुका है छेड़छाड़ का केस

ग्रामीणों के मुताबिक गुड्डू व आरोपित शराब के लती बताए जा रहे हैं। अक्सर सभी जुआ आदि भी खेला करते थे। आरोपित कुलदीप व संदीप का चाल चलन ठीक नहीं था। अभी डेढ़ साल पहले ही बजरंगखेड़ा गांव की एक महिला ने कुलदीप के ऊपर छेड़छाड़ का आरोप लगते हुए केस दर्ज करवाया था। बाद में गांव के लोगों ने बीच में पड़ कर मामले को सुलझा दिया गया था।

रुपये के लेनदेन में पहले से कोर्ट में चल रहा मामला

राम कुमार ने बताया कि पिछले साल मई माह में जुआ खेलने के दौरान 1500 सौ रुपये को लेकर गुड्डू व संतराम में मारपीट हुई थी, जिसका मामला कोर्ट में था। रुपये न देने पर आरोपितों ने छोटे भाई अशोक का मोबाइल ले लिया था। उसके बाद गुड्डू कमाई के लिए दिल्ली चला गया था। और तीसरे चौथे माह आता था। चार दिन पहले ही गुड्डू घर आया था।

आशनाई की रही चर्चा

गुड्डू की मौत के बाद ग्रामीणों में तरह तरह की चर्चाओं का दौर जारी रहा। बताया जा रहा है कि परिवार की युवती से आरोपित संदीप के संबंध थे। इस वजह से संदीप व कुलदीप अक्सर मोहल्ले में आते जाते रहते थे, जिसका गुड्डू लगातार विरोध करता था। मामले को लेकर कई बार झगड़ा भी हो चुका था। हालांकि इस मामले में आसपास के पड़ोसी समेत कोई खुलकर मामला बताने को तैयार नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here