पूर्व सीएम अखिलेश के ट्वीट से उन्नाव के हरिपाल को घरौंदे की आस, लिखा- हमारी संस्कृति में तो चिड़ियों के घोंसले भी नहीं तोड़े जाते

0
96

उन्नाव:- जनपद उन्नाव के पुरवा बीघापुर मार्ग के चौड़ीकरण के दौरान अतिक्रमण हटाते समय गरीब हरिपाल के मकान को गिराने पर पूर्व सीएम अखिलेश यादव के ट्वीट से हड़कंप मच गया है। पीडब्ल्यूडी एक्सईएन ने पत्र जारी करके गरीब के निवास की वैकल्पिक व्यवस्था करने की बात कही है। जनपद उन्नाव के बीघापुर तहसील क्षेत्र में पुरवा-बीघापुर मार्ग का चौड़ीकरण किया जा रहा है। इस दौरान ग्राम मगरायर बाधा बने छह मकान अवैध बताकर ध्वस्त कर दिए गए। इसमें गांव निवासी हरिपाल का मकान भी गिर गया। उसका परिवार सड़क पर आ गया। हरिपाल का कहना है कि उसने अपनी जमीन पर घर बनाया था। उसका रोते हुए वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया जिसपर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर दिया और तुरंत पीडब्ल्यूडी एक्सईएन हरदयाल अहरिवार ने पत्र जारी कर बताया कि हरिपाल ने विभागीय भूमि पर निर्माण कर लिया था। इसे शासन द्वारा निर्धारित अतिक्रमण अभियान के अंतर्गत हटाया गया है। उसके निवास की वैकल्पिक व्यवस्था कर दी गई है तो वहीं हरिपाल का कहना है कि दो दिन पहले तहसील बीघापुर व पीडब्ल्यूडी के कुछ अधिकारी आए थे। उससे एक कागज पर हस्ताक्षर कराकर 45 हजार रुपये खेतों में मकान बनवाने के लिए दे गए थे। कर्मियों ने यह बात किसी को बताने से मना किया था। हरिपाल का कहना है कि 45 हजार रुपये में तो एक कमरा भी इस महंगाई में बनना मुश्किल है।

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का ट्वीट

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लिखा कि ये है 2022 तक सबको घर देने का झूठा वादा करने वाली भाजपा का सच। आंसुओं का मोल समझने के लिए एक संवेदनशील हृदय चाहिए होता है। जो भाजपा सरकार में नहीं है। कहा कि संस्कृति का झूठा स्वांग रचने वाले जान लें कि हमारी संस्कृति में तो चिड़ियों के घोंसले भी नहीं तोड़े जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here