उन्नाव में बच्ची को अगवाकर हुई बर्बरता, दुष्कर्म के बाद सिर पटककर की गई हत्या

0
88

उन्नाव (बांगरमऊ):- जनपद उन्नाव के बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। बदले की आग में पड़ोसियों ने रविवार रात छत पर लेटी बच्ची (11) को अगवा कर लिया और दुष्कर्म कर सीमेंट के पिलर पर कई बार सिर पटककर उसकी हत्या कर दी और शव रेलवे लाइन के किनारे फेंक दिया। सूत्रों के प्राप्त जानकारी के अनुसार पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बच्ची से हैवानियत के सुबूत मिले हैं। निजी अंग पर गहरी चोटें हैं। मृतका की मां की तहरीर पर पड़ोसी महिला, उसके देवर, जेठ और दो भाइयों पर अपहरण व हत्या की रिपोर्ट दर्ज की गई है। बच्ची रविवार रात छत पर सोने चली गई। कुछ देर बाद मां पहुंची तो वह छत पर नहीं मिली। मां ने पुलिस को सूचना दी तो गुमशुदगी दर्ज कर खोजबीन शुरू की गई। सोमवार सुबह पांच बजे बच्ची का लहूलुहान शव घर से एक किमी दूर रेलवे ट्रैक के किनारे पड़ा मिला। शव के पास ही सीमेंट के पिलर में खून लगा देखकर हत्या की आशंका जता परिजनों और ग्रामीणों ने हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस अधीक्षक दिनेश त्रिपाठी व एएसपी शशिशेखर सिंह मौके पर पहुंचे और मृतका की मां ने पुलिस को बताया कि पड़ोसी महिला रीना से पति की लगभग ढाई साल से नजदीकियां थीं। तीन माह पहले महिला जेल भिजवाने की धमकी देकर उसके पति को लेकर दिल्ली चली गई थी और दो माह साथ रहने के बाद चार मई को महिला भाइयों के साथ गांव आ गई और उसके पति पर झांसा देकर भगा ले जाने की रिपोर्ट दर्ज करा दी।

उक्त घटना के बाद महिला के देवर और भाइयों ने उसकी बच्ची के साथ जघन्य घटना को अंजाम देने की धमकी दी थी। मां की तहरीर पर पुलिस ने पड़ोसी महिला रीना, उसके जेठ संतोष, देवर बच्चन, भाई राजू और राजेश के खिलाफ अपहरण, बलवा, हत्या व एससी-एसटी एक्ट में रिपोर्ट दर्ज कर रीना को हिरासत में लिया है। बच्ची के मामा का आरोप है कि उसकी भांजी के साथ दुष्कर्म हुआ है पर पुलिस ने यह धारा नहीं लगाई है। पुलिस अधीक्षक दिनेश त्रिपाठी ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्यवाही की जाएगी।

सिर में दो जगह हड्डी टूटी चेहरे, हाथ और सीने में पाँच चोटे

हत्या से पहले दलित बच्ची के साथ हैवानियत की हदें पार की गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट इसकी पुष्टि कर रही है और बच्ची के नाजुक अंग में गंभीर घाव मिले हैं। अंदेशा है कि किसी औजार से नाजुक अंग में हमला किया गया। उसके सिर की हड्डी दो जगह टूटी मिली हैं। चेहरे, हाथ और सीने में भी पाँच चोटें हैं। पैनल और वीडियोग्राफी के बीच पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर भी दरिंदगी देख सहम गए। दुष्कर्म की पुष्टि के लिए दो स्लाइड बनाई गई हैं। जनपद उन्नाव के माखी थाना क्षेत्र में रहने वाले बच्ची के मामा ने बताया कि हत्या में नामजद महिला के जेठ-देवर और दो भाई लगातार उसकी मासूम भांजी के साथ बड़ा कृत्य कर बदला पूरा करने की धमकी दे रहे थे। बच्ची की मां लगभग दस बार इसकी शिकायत लेकर कोतवाली गई पर पुलिस बार-बार यही कहती रही कि पड़ोसी गुस्से में ऐसा बोल रहे हैं ध्यान न दो। पुलिस यदि समय रहते कार्यवाही करती तो भांजी के साथ घटना न होती। उन्होंने बताया कि बच्ची चार भाई बहनों में दूसरे नंबर की थी। नामजद महिला के अलावा अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए स्वॉट व कोतवाली पुलिस की चार टीमें संभावित जगहों पर दबिश दे रही हैं। देर शाम खेत में भारी पुलिस बल की मौजूदगी में शव का अंतिम संस्कार किया गया।

ननिहाल से न लौटती तो बच जाती जान

परिजन बार-बार यही कह रहे थे कि बच्ची नाना के घर से न आती तो उसकी जान बच जाती। परिजनों के अनुसार तीन मई को बच्ची माँ के साथ ननिहाल माखी थाना क्षेत्र गई थी और पांच मई को वह माँ के साथ घर लौट आई। रात में पूरे परिवार ने खाना खाया और सोने के लिए आंगन में चारपाई डाली गई। गर्मी अधिक लगने की बात कहकर बच्ची ने माँ से छत पर चलने की जिद की। माँ उसे लेकर छत पर पहुंची। बच्ची ने प्यास लगने की बात कही तो माँ नीचे आ गई। इसी दौरान बच्ची को अगवा कर लिया गया।

खून लगा पत्थर पुलिस ने कब्जे में लिया

सुराग तलाशने के लिए फील्ड यूनिट व स्वॉट टीम मौके पर पहुंची। जिस पिलर से सिर पटककर बच्ची की हत्या की गई थी उसे सूंघता हुआ खोजी कुत्ता 100 मीटर की परिधि में गया और फिर लौट आया। शव के पास एक कोठरी में भी फील्ड यूनिट पहुंची पर वहां से भी कोई सुराग हाथ नहीं लगा। खून लगे पत्थर को पुलिस ने कब्जे में ले लिया है।

दो माह पूर्व डरकर भागा था पिता

बच्ची की माँ ने बताया कि नामजद महिला का देवर उसके पति पर फर्जी दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराने की फिराक में था। इस डर से उसका पति दो माह पहले घर से भागा था। मासूम बच्ची की हत्या की जानकारी पर सोमवार सुबह वह घर पहुंचा है।

……………….
पुलिस अधीक्षक दिनेश त्रिपाठी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बच्ची की हत्या की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही उसके नाजुक अंग में जख्म भी मिले हैं। दुष्कर्म की पुष्टि के लिए स्लाइड बनाई गई है। स्लाइड रिपोर्ट के आधार पर कार्यवाही की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here