उन्नाव में एक बेटी को मार डाला, दूसरी का माँ के साथ जेल में बचपन

0
70

उन्नाव (बांगरमऊ):- जनपद उन्नाव के बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र के गांव भिखारीपुर रुल्ल में पड़ोसियों को फंसाने के लिए बेटी की हत्या करने वाले पिता और उसका साथ देने वाली माँ ने डेढ़ वर्षीय दूसरी बेटी का बचपन गर्त में डाल दिया है। पुलिस ने बुधवार को आरोपी दंपती को कोर्ट में पेश किया जहाँ से दोनों को जेल भेजा गया है। मासूम बच्ची भी उनके साथ जेल गई है। वहीं घर में मौजूद दो बच्चे माता-पिता के जेल जाने से बदहवास हैं। वृद्ध दादी उन्हें कलेजे से लगाकर सिसक रहीं थीं। पुलिस ने आरोपी माता-पिता पर अपहरण हत्या के अलावा दुष्कर्म, पॉक्सो और साजिश रचने की धारा भी लगाई है। जनपद उन्नाव के बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र के ग्राम भिखारीपुर रुल्ल गांव निवासी ध्रुव कुमार ने पड़ोसी महिला और उसके परिजनों से बदला लेने के लिए अपनी बेटी सोनम (11) को ढाल बना पहले उसकी हत्या की फिर विपक्षियों पर दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए उसके नाजुक अंग में गहरी चोट पहुंचाई। मंगलवार को आईजी लक्ष्मी सिंह व पुलिस अधीक्षक दिनेश त्रिपाठी ने घटना का खुलासा किया था। बुधवार को पुलिस ने बेटी के हत्यारोपी ध्रुव और जघन्य अपराध में साथ देने वाली पत्नी राजरानी को जेल भेज दिया है। राजरानी के साथ उसकी डेढ़ साल की बेटी रितिका भी जेल गई। घर पर दो बेटे इस घटना के बाद सहमें में हैं। दादी सिसकते हुए बोलीं इससे अच्छा तो वह बेऔलाद रहतीं।

दोनों बच्चों को सीने से लगाया लेकिन बूढ़ी माँ से आंख न मिला पाया

मंगलवार शाम जब हत्यारोपी दंपती को जेल भेजे जाने की जानकारी हुई तो उन्होंने खाना नहीं खाया। पुलिस ने आरोपी पिता के कबूलनामे के आधार पर बेटी की हत्या का मुकदमा लिखा तो वह बांगरमऊ कोतवाली में ही बिलख पड़ा तो वही पत्नी राजरानी भी कोतवाली में एक कोने में बैठी सिसकती रही। बुधवार सुबह जब पुलिस दोनों को कोर्ट में पेश करने के लिए लेकर जा रही थी तो बेटे शिवा और प्रिंस भी कोतवाली में मौजूद थे। पुलिस की जीप में बैठने से पहले माता-पिता ने दोनों को सीने से लगाया और फूटकर रोने लगे। ध्रुव बूढ़ी माँ सोहदारा से नजरें नहीं मिला पा रहा था। सिर झुकाकर जीप में बैठा और पुलिस दोनों को लेकर चली गई जिसके बाद दोनों मासूम बच्चे दादी से लिपटकर काफी देर तक बिलखते रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here