उन्नाव के जिला अस्पताल में भीषण गर्मी से मरीजों की भीड़

0
51

उन्नाव:- जैसे-जैसे तपन बढ़ रही वैसे-वैसे संक्रामक बीमारियां भी बढ़ती जा रही हैं। सरकारी गैर सरकारी अस्पतालों में डायरिया, बुखार, हीट स्ट्रोक जैसी बीमारियों से पीड़ित मरीजों की लंबी लाइन लगी है। उन्नाव के जिला अस्पताल में आज भी डायरिया, बुखार और हीट स्ट्रोक के 42 मरीज भर्ती किए गए। उन्नाव के जिला अस्पताल में पर्चा काउंटर, ओपीडी कक्ष, दवा वितरण कक्ष और डायग्नोस्टिक सेंटर में मरीजों की लंबी लाइन लगी रही। 1598 मरीजों ने पर्चा बनवा पंजीकरण कराया। जल्दी पर्चा बनवाने को लेकर लाइन में लगे लोगों के बीच धक्का-मुक्की भी होती रही। यही हाल डायग्नोस्टिक सेंटर लगी लाइन में भी रहा।

मरीजों को नहीं मिल रही डिजिटल एक्स-रे की फिल्म

जिला अस्पताल में डिजिटल एक्सरे कराने वाले मरीजों को अब रिपोर्ट के साथ फिल्म नहीं मिल रही है। एक्स-रे की फिल्म के स्थान पर कागज पर प्रिंट निकाल कर दिया जा रहा है। रेडियोलाजिस्ट का कहना है कि प्लेट नहीं हैं इससे मोबाइल पर या कागज पर एक्स-रे फिल्म का प्रिंट दिया जा रहा है।

जिला अस्पताल में घंटों ब्लड जांच रिपोर्ट पाने के लिए भटके मरीज व तीमारदार

उन्नाव के जिला अस्पताल के डायग्नोस्टिक सेंटर में ब्लड आदि की जांच कराने वाले मरीजों को अभीतक पैथोलाजिस्ट के डिजिटल हस्ताक्षर से जांच रिपोर्ट दी जाती थी लेकिन अब सभी रिपोर्ट पर उनके हस्ताक्षर करना अनिवार्य कर दिया गया है। इससे आज रिपोर्ट पाने के लिए मरीजों को घंटों परेशान होना पड़ा। पैथोलाजिस्ट डॉ. आनंद स्वरूप ने बताया कि हस्ताक्षर करने में कुछ समय लगता है हो सकता है इससे मरीजों को असुविधा हुई हो।

…………………

उन्नाव के जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ. पवन कुमार ने बताया कि डिजिटल एक्स-रे प्लेट इस समय नहीं हैं इससे मरीजों को फिल्म नहीं दी जा रही है। जो मरीज चाहते हैं उन्हें मोबाइल पर या कागज पर एक्स-रे का प्रिंट दे दिया जाता है। प्लेट मंगवाई है और जल्द फिल्म दिलाई जाएगी। जांच रिपोर्ट में हस्ताक्षर के कारण मरीजों को परेशानी हुई है इसकी जानकारी नहीं है। पैथोलाजिस्ट से कहकर इसमें सुधार कराया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here