दिव्यांग किशोर को बोर्डिंग से रोकने पर आक्रोश के बाद इंडिगो के सीईओ को मांगनी पड़ी माफी।

0
109

इंडिगो एयरलाइन के कर्मचारियों ने शनिवार को एक दिव्यांग बच्चे को रांची हवाईअड्डे पर विमान में चढ़ने से रोक दिया। इंडिगो ने इसका कारण बताया कि बच्चा विमान में यात्रा करने से घबरा रहा था।

इस घटना के सामने आने के बाद जहां विमानन नियामक डीजीसीए ने मामले में जांच शुरू कर दी है। वहीं, केंद्र सरकार ने भी इस पर संज्ञान लिया है। केंद्रीय नागर उड्डयन एवं विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इस पर ट्वीट भी किया और कहा कि पूरी जांच उनकी निगरानी में ही होगी।

सिंधिया के सख्त तेवर के बाद एयरलाइन ने मांफी मांगी है। इंडिगो एयरलाइंस के सीईओ रोनोजॉय दत्ता ने घटना पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है, “हम बहुत अच्छी तरह से मानते हैं कि शारीरिक रूप से विकलांग व्यक्तियों की देखभाल के लिए अपना जीवन समर्पित करने वाले माता-पिता हमारे समाज के सच्चे नायक हैं।

हम आज के दुर्भाग्यपूर्ण अनुभव के लिए प्रभावित परिवार से माफी मांगते हैं और उस घटना पर खेद प्रकट करते हैं। साथ ही अपनी भूल को सुधारने के लिए उस किशोर बच्चे के लिए इलेक्ट्रिक व्हील चेयर खरीदने की पेशकश करते हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here