बीरभूम में हुई हिंसा पर केंद्र सख्त, बीरभूम हिंसा में 8 की मौत, BJP सांसदों ने गृह मंत्री शाह से की मुलाकात, गृह मंत्रालय ने 72 घंटे में ममता सरकार से तलब की रिपोर्ट।

0
144

पश्चीम बंगाल में बीरभूम ज़िले के रामपुरहाट में सोमवार को हुई हिंसा में आठ लोगों की मौत हो गई। इस मामले को लेकर भारतीय जनता पार्टी के पश्चिम बंगाल के 9 बीजेपी सांसदों ने बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सुकान्त मजूमदार की अगुवाई में आज गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की।

बीरभूम कांड के दोषियों के खिलाफ हस्तक्षेप और कार्रवाई की मांग की। मुलाकात के बाद सांसदों ने कहा कि अमित शाह ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि 72 घंटे में इस पूरे मामले में राज्य सरकार से रिपोर्ट तलब की जाए।

बता दें कि कोलकाता से करीब 220 किलोमीटर दूर बीरभूम जिले के बोगतुई गांव में तृणमूल कांग्रेस के उपपंचायत प्रमुख की हत्या के बाद कुछ घरों में आग लगा दी गई, जिससे आठ लोगों की जलकर मौत हो गई।

पश्चिम बंगाल के BJP अध्यक्ष सुकांता मजूमदार ने कहा, हम 7 सांसदों की टीम लेकर गृह मंत्री अमित शाह जी से मिलने गए थे।उन्होंने हमें आश्वासन दिया है कि वो 72 घंटे में घटना की रिपोर्ट लेंगे। बीरभूम में जो घटना घटी है, वो मानवता को शर्मशार करने वाली घटना है।

उन्‍होंने पश्चिम बंगाल में बार-बार ऐसी घटनाएं हो रही हैं इसलिए कानून व्यवस्था का संज्ञान लेने के लिए गृह मंत्रालय से एक टीम जाएगी और निरीक्षण करेगी।

रामपुरहाट में भड़की हिंसा के मामले में जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है। इसमें सीआईडी एडीजी ग्यानवंत सिंह, एडीजी वेस्टर्न रेंज संजय सिंह और डीआईजी सीआईडी ऑपरेशन मीरज खालिद को शामिल किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here