रिटायर्ड सैनिक ने पत्नी-बेटी की गला काटकर की हत्या, 89 साल के बुजुर्ग ने कहा- जिंदा रखने से ज्यादा मारना सही लगा।

0
165

मायानगरी मुंबई से एक दिल दहला देने वाला शॉकिंग क्राइम सामने आया है। जहां एक 89 वर्षीय रिटायर्ड सैनिक ने अपनी बीमार पत्नी और जवान बेटी का गला काटकर उनको मौत के घाट उतार दिया। हैरानी की बात यह है कि उसने पुलिस पूछताछ में जो कहा, वो बेहद अजीब था।

आरोपी बोला-मैंने उनको मारने में कोई गलती नहीं की, जो किया वह सही किया। क्योंकि मुझे जिंदा रखने से ज्यादा मारना सही लगा। दरअसल, यह मामला सोमवार रात मुंबई के शेर-ए-पंजाब कॉलोनी की प्रेम संदेश सोसाइटी से सामने आया है। जहां के निवासी पुरुषोत्तम सिंह गंढोक ने इस खौफनाक वारदात को अंजाम दिया है।

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। हालांकि उसने खुद अपना जुर्म कबूलते हुए सरेंडर किया है। सुने कहा कि मुझे दोनों को मारने का कोई पछतावा नहीं है। बीमार पत्नी और मानसिक विक्षिप्त अविवाहित बेटी के पालन-पोषण में मुश्किल होने पर 89 वर्षीय रिटायर्ड सैनिक ने उनकी गला काटकर हत्या कर दी।

हत्यारे पुरुषोत्तम सिंह गंढोक ने वारदात की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया। पुरुषोत्तम की पत्नी जसबीर कौर पिछले दस साल से बीमार थी और बिस्तर पर ही पड़ी रहती थी। बेटी कमलजीत कौर की मानसिक स्थिति भी ठीक नहीं थी। पुरुषोत्तम सिंह अपनी उम्र के कारण इनकी देखभाल नहीं कर पा रहा था।

रोज-रोज की परेशानी से तंग आकर बुजुर्ग ने सोमवार को पहले पत्नी का और उसके बाद बेटी का गला काट दिया। बताया जा रहा है कि पत्नी और बेटी का गला काटने के बाद उसने खुद इस घटना की जानकारी सबसे पहले अपनी शादीशुदा बड़ी बेटी को दी।

फोन कर कहा कि मैंने तुम्हारी मां और बहन की हत्या कर दी है। जिसके बाद बेटी तत्काल घर पहुंची। वह बाहर से दरवाजा खटखटाती रही, लेकिन पिता ने गेट नहीं खोला। वह कहता रहा कि जब तक पुलिस नहीं आएगी मैं दरवाजा नहीं खोलूंगा। इसके बाद बेटी ने पुलिस को फोन कर मौके पर बुलाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here