बुंदेलखण्ड को मोदी सरकार की सौगात, केन-बेतवा लिंक परियोजना से यूपी एमपी के 13 जिलों की बदल जायेगी तस्वीर।

0
172

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को देश के सामने वित्तीय बजट पेश किया। इस दौरान बुंदेलखंड को सौगात देते हुए उन्होंने बताया कि केन-बेतवा लिंक परियोजना के लिए बजट में 1400 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। मोदी सरकार का आम बजट मध्य प्रदेश के लिए एक बड़ी सौगात लेकर आया है।

बजट में केंद्र सरकार ने मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण केन-बेतवा लिंक परियोजना के लिए बजट स्वीकृत कर दिया है। इस परियोजना के आगे बढ़ने से औद्योगिकीकरण होने से रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे और पूरे क्षेत्र में पेयजल का संकट भी खत्म होगा।

केन-बेतवा लिंक परियोजना को मोदी सरकार की स्वीकृति पहले ही मिल चुकी थी, यह योजना एमपी और यूपी में आने वाले बुंदेलखंड अंचल के लिहाज से बेहद अहम है। बजट में केन-बेतवा लिंक परियोजना के लिए 44,605 ​​करोड़ रुपये का बजट स्वीकृत किया गया है। केन-बेतवा लिंक का कार्यान्वयन किसानों और स्थानीय आबादी को सिंचाई, खेती और आजीविका की सुविधा प्रदान करने वाली 9 लाख हेक्टेयर से अधिक किसानों की भूमि की सिंचाई के लिए किया जाएगा।

परियोजना की खास बाते
44,605 करोड़ रुपए की है परियोजना
1062 लाख हैक्टेयर भूमि की होगी सिंचाई
62 लाख किसानों को मिलेगा पानी
103 मेगावाट जल ऊर्जा और 27 मेगावाट
सौर ऊर्जा का उत्पादन भी होगा
8 साल में बनकर होगा तैयार

बता दें कि केन बेतवा लिंक परियोजना से सबसे ज्यादा फायदा बुंदेलखंड क्षेत्र को होगा। मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में आने वाले बुंदेलखंड क्षेत्र में दोनों राज्यों के कुल 13 जिले आते हैं, इनमें मध्य प्रदेश के पन्ना, टीकमगढ़, निवाड़ी, छतरपुर, सागर, दमोह, दतिया, विदिशा, शिवपुरी, रायसेन जिले शामिल हैं। वहीं उत्तर प्रदेश के बांदा, महोबा, झांसी और ललितपुर जिले शामिल हैं।

केंद्र सरकार ने नदियों को जोड़ने के लिए एक नेशनल प्रेसपेक्टिव प्लान बनाया था। इस प्लान के तहत केन बेतवा लिंक परियोजना पहला प्रोजेक्ट है। इस प्रोजेक्ट के तहत केन नदी का पानी बेतवा नदी को ट्रांसफर किया जाएगा। दोनों नदियों को जोड़ने के लिए 221 किलोमीटर लंबी केन बेतवा लिंक नहर बनाई जाएगी, इसमें किलोमीटर लंबी टनल भी बनाई जाएगी।

केन-बेतवा लिंक नहर से झांसी के सभी नहर, तालाब एवं डैम भी भरे जा सकेंगे। सपरार, खपरार, लखेरी जैसे सूखे बांध भी भर जाएंगे। परियोजना के लिए मध्य प्रदेश के पन्ना में केन नदी पर दौधन बांध बनेगा। इससे 221 किलोमीटर लंबा लिंक चैनल निकलेगा। यह बरुआसागर के पास से बेतवा नदी को पानी उपलब्ध कराएगा।

परियोजना के अंतर्गत बरियारपुर पिकप वीयर के डाउनस्ट्रीम में दो नए बैराज बनेंगे। यहां करीब 128 एमसीएम पानी का भंडारण होगा। अभियंताओं के मुताबिक बरियापुर पिकप वीयर, परीछा, वीयर, बरूआ सागर में बांध निर्माण एवं पुनस्थापना का कार्य होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here