चौथे चरण के लिए बंद हुआ चुनाव प्रचार, सभी प्रत्याशियों ने झोंकी ताकत

0
178

उन्नाव:- उत्तर प्रदेश में सूरज ढलते ही चौथे चरण के लिए प्रचार सोमवार की शाम 6 बजे थम गया। चौथे चरण में 624 उम्मीदवार हैं, जिनके भाग्य का फैसला 2.13 करोड़ मतदाता करेंगे। चौथे चरण में 9 जिलों की 59 सीटों पर 23 फरवरी को वोटिंग होगी। इस चरण की 59 सीटों में से बीजेपी ने 2017 में 51 सीटें जीती थी। बीजेपी के सामने अपने किले को बचाने की सबसे बड़ी चुनौती है। प्रचार के अंतिम दिन सभी प्रत्याशी अपनी-अपनी पूरी ताकत झोंकी। उन्नाव जनपद की सदर विधानसभा से समाजवादी पार्टी से प्रत्याशी अभिनव कुमार को जनता का भरपूर समर्थन मिला। वहीं डिप्टी सीएम ने प्रचार के आखिरी दिन जनसभा करके बीजेपी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुई बीजेपी प्रत्याशी के पक्ष में वोट करने को कहा। गतदिनों से लगातार उन्नाव सियासी अखाड़ा बना था। प्रधानमंत्री , मुख्यमंत्री ,पूर्व मुख्यमंत्री, मंत्रियों के दौरे लगातार लगे रहे व राजनीतिक पार्टियों के बड़े-बड़े दिग्गजों का जमावड़ा लगा रहा।

कई जनसभाओं का हुआ आयोजन

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के चौथे चरण में उन्नाव जनपद में भी मतदान होना है जिसको लेकर आज प्रचार प्रसार थम गया सभी राजनीतिक पार्टियों ने जनता के बीच अपनी दमखम दिखाई आरोप-प्रत्यारोप का दौर चला आज सूरज ढलते ही प्रचार प्रसार पर रोक लग गई ऐसे में जनता के बीच अब केवल अकेले प्रत्याशी ही जनता से मिल सकेगा अपना लाव लश्कर लेकर चला तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी गत दिनों से उन्नाव की जनता को अपने पक्ष में वोट डालने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक विशाल जनसभा, मुख्यमंत्री की एक जनसभा, डिप्टी सीएम की 2 जनसभाएं, सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की 3 जनसभाएं व 1 रथ यात्रा। प्रियंका गांधी ने रोड शो किया बसपा की सतीश मिश्रा की 4 जनसभाएं व अन्य बड़े दिग्गज नेताओं का ताता लगातार लगा रहा। 23 फरवरी को 57 प्रत्याशियों की भाग्य रेखाएं ईवीएम मशीन में कैद हो जाएंगी 10 मार्च को ईवीएम खुलते ही नतीजे सामने आ जाएंगे किस-किस को जनता ने सराहा किसे जनता ने नकारा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here