जिलाधिकारी ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिछिया (एल-1 अस्पताल) का किया निरीक्षण

0
182

उन्नाव:- जिलाधिकारी श्री रवीन्द्र कुमार ने आज सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिछिया (एल-1 अस्पताल) का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 सत्य प्रकाश व अधीक्षक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिछिया रवि सचान उपस्थित रहे। निरीक्षण के दौरान सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिछिया (एल-1 अस्पताल) के निरीक्षण के समय डा0 राजेश कुमार व डा0 यू0बी0 सिंह उपस्थित मिले, कोविड-19 से सम्बंधित भर्ती मरीजों के सम्बंध में उपस्थित अधीक्षक से जानकारी प्राप्त की गयी, जिनके द्वारा अवगत कराया गया कि वर्तमान में 07 मरीज भर्ती है।

दवाओं की उपलब्धता के सम्बंध में जानकारी करने पर दवायें उपलब्ध होना बताया गया। कम्बल के सम्बंध में जानकारी करने पर 20 कम्बल होना बताया गया। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को पर्याप्त कम्बलों की व्यवस्था सुनिश्चित कराने हेतु निर्देशित किया। मरीजों व स्टाफ हेतु भोजन के सम्बंध में जानकारी करने पर भोजन सी0एच0सी0 में ही बनना बताया गया।

गुणवत्ता के सम्बन्ध में जानकारी करने पर गुणवत्ता ठीक होना बताया गया। उपस्थित अधीक्षक द्वारा अवगत कराया गया कि मरीजों द्वारा स्नान हेतु गर्म पानी की माग की जा रही है। मुख्य चिकित्साधिकारी उन्नाव को इस सम्बन्ध में तत्काल आवश्यक कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया। सफाई कर्मी के सम्बन्ध में जानकारी करने पर पर्याप्त सफाई कर्मी होना बताया गया।

आक्सीजन जनरेशन प्लांट से बेड तक आक्सीजन की आपूर्ति होने के सम्बंध में जानकारी करने पर प्रत्येक बेड पर आक्सीजन पहुंचना बताया गया। जिलाधिकारी द्वारा सम्बन्धित को निर्देशित किया गया कि प्रतिदिन इसकी चेकिंग की जाए कि आक्सीजन बेडों पर पहुंच रही है अथवा नहीं। इसके अतिरिक्त आक्सीजन कन्सन्ट्रेटर की भी प्रतिदिन क्रियाशीलता की जांच करने हेतु निर्देशित किया गया।

वैक्सीनेशन सेण्टर के सम्बंध में जानकारी करने पर विकास खण्ड में चलना बताया गया। निरीक्षण के दौरान सा0 स्वास्थ्य केन्द्र की साफ-सफाई देखी गयी साथ ही सम्बन्धित को सफाई व्यवस्था में और सुधार लाने हेतु निर्देशित किया गया। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन चिकित्सालय के अन्दर व बाहर पर्याप्त साफ-सफाई कराई जाये।

जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि कोविड-19 से सम्बंधित भर्ती मरीजों को दिये जा रहे उपचार, भोजन, पेयजल, साफ-सफाई आदि का नियमित रूप से पर्यवेक्षण सुनिश्चित करें। किसी भी मरीज को किसी प्रकार की असुविधा न हो तथा बेहतर चिकित्सीय उपचार दिया जाये।

उन्नाव से कुलदीप लोधी की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here