अखिलेश यादव ने किया नया वादा कहा आईटी सेक्टर में 22 लाख रोजगार देंगे।

0
117

समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस मौके पर बरेली के पूर्व सांसद प्रवीण सिंह ऐरन और उनकी पत्नी व इस चुनाव में कांग्रेस की उम्मीदवार सुप्रिया ऐरन सपा में शामिल हुईं।

अखिलेश ने बरेली की पूर्व महापौर सुप्रिया को बरेली कैंट से सपा का प्रत्याशी घोषित किया है। इसके अलावा संडीला से पूर्व विधायक महावीर सिंह की पत्नी रीता सिंह भी पार्टी में शामिल हुईं।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होनें बड़ा ऐलान किया कि चुनाव के मद्देनज़र जनता के लिए कुछ फैसले लिए गए हैं। इसके तहत समाजवादी पार्टी की सरकार बनने पर लोगों को 300 यूनिट मुफ़्त बिजली दी जायेगी।

किसान के खेतों की सिचांई के लिए मुफ़्त बिजली दी जाएगी। साथ ही हम आईटी सेक्टर में 22 लाख नौजवानों को रोजगार देंगे। लखनऊ स्थित चक गंजरिया फॉर्म में सबसे पहला इंवेस्टमेंट आया था। समाजवादी सरकार में आईटी सेक्टर में हुए कार्य को अगर आगे बढ़ाया गया होता तो लखनऊ आईटी हब के रूप में जाना जाता।

अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार में विकसित एचसीएल कैम्पस में पांच हजार से ज़्यादा लोगों को डायरेक्ट नौकरियां मिली हैं। बड़े पैमाने पर छात्रों को जो आगे की पढ़ाई पढ़ रहे थे उन्हें लैपटॉप दिया गया था। आप जब गांव में जाएंगे तो आपको लैपटॉप देखने को मिलेगा।

अगर आप देखें और लैपटॉप से क्या-क्या रोजगार और नौकरी मिली है एक-एक लैपटॉप की अपनी कहानी है। भाजपा सरकार पर हमला बोलते हुए अखिलेश ने कहा जो लोग बरेली के झुमके की बात करते हैं वो बताएं कि बरेली की इंडस्ट्री के लिए क्या सपोर्ट किया? नया कारखाना या कोई उद्योग आया हो तो मुझे बताइए? उत्तर प्रदेश में आईटी हब कई जगह बन सकते हैं।

बरेली में बन सकता है, आगरा में बन सकता है, गाजियाबाद में बन सकता है नोएडा में पहले से है। जिस समय लॉकडाउन लगा समाजवादी सरकार के दौरान दिया गया लैपटॉप बहुत लोगों के काम आया। 2022 में सरकार बनने पर बड़े पैमाने पर छात्रों को लैपटॉप दिया जाएगा।

अखिलेश यादव ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि ‘वर्ष 2022 में बाइसिकल का नारा साकार करने के लिए सपा आज संकल्प लेती है। आईटी सेक्टर में 22 लाख युवाओं को नौकरी देने का संकल्प लेते हैं, इसके लिए सरकार काम करेगी।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here