5 नवंबर को एक किसान पर कथित हमले को लेकर कृषि कानून के प्रदर्शनकारियों ने आज हांसी में हिसार एसपी के कार्यालय का घेराव किया।

0
267

हरियाणा: 5 नवंबर को एक किसान पर कथित हमले को लेकर कृषि कानून के प्रदर्शनकारियों ने आज हांसी में हिसार एसपी के कार्यालय का घेराव किया। हरियाणा के हिसार में किसानों और प्रशासन के बीच आज हुई बातचीत सफल नहीं हो सकी। जिसके बाद प्रदर्शनकारी किसानों ने हांसी मिनी सचिवालय के मेन गेट पर धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया है।

बातचीत असफल रहने के बाद किसान नेता राकेश टिकैत ने अस्पताल जाकर घायल किसान कुलदीप से मुलाकात की। उसके बाद राकेश टिकैत वहां से चले गए। बता दें कि किसानों की 16 सदस्यीय कमेटी ने आज शाम को हांसी की एसपी नितिका गहलोत के साथ मीटिंग की। इस दौरान किसानों की पहली मांग थी कि सांसद और उनके साथ आए लोगों पर हत्या की कोशिश का केस दर्ज किया जाए।

बीकेयू नेता राकेश टिकैत ने कहा, ‘हमारी मांग है कि बीजेपी के राज्यसभा सांसद रामचंद्र जांगड़ा के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए, जिनके गुंडों ने किसान पर हमला किया था। किसानों ने प्रशासन से दूसरी मांग करते हुए कहा कि किसानों पर दर्ज मामले वापस लिए जाएं। लेकिन 45 मिनट तक चली इस बैठक में किसानों और प्राशसन के बीच कोई सहमति नहीं बन सकी।

जिसके बाद गुस्साए प्रदर्शनकारियों ने हांसी मिनी सचिवालय के बाहर धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया। इसके साथ ही किसानों ने नारनौंद छाने के धरने को भी हांसी में ही शिफ्ट कर दिया है। एसपी से बातचीत के लिए गए किसानों का आरोप है कि प्रशासन ने उनके पीछे बंदूकधारी खड़ेकर उन पर दवाब बनाने की कोशिश की। इसके साथ ही किसानों ने आवाज बुलंद करते हुए कहा कि किसान किसी भी सूरत में झुकने वाले नहीं हैं।

किसानों के एलान के बाद हांसी में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। लघु सचिवालय के चारों ओर नाकेबंदी की गई है। करीब एक किलोमीटर दूर बेरिकेड लगाए गए हैं।

शनिवार को हरियाणा के नारनौंद कस्बे में किसानों की महापंचायत में घेराव का एलान किया गया था। किसान संगठनों ने कहा था कि कई राज्यों के किसान इस घेराव में शामिल होंगे। किसानों की मांग है कि सांसद के विरोध के दौरान उनके खिलाफ दर्ज एफआईआर रद्द की जाए, प्रदर्शन में घायल किसान कुलदीप का सरकारी खर्च पर इलाज कराया जाए। 

किसानों ने आरोप लगाया था कि सांसद रामचंद्र जांगड़ा का विरोध कर रहे किसान को उनके पीए, गनमैन और साथ आए लोगों ने पीटा।नारनौंद में भाजपा सांसद रामचंद्र जांगड़ा के घेराव के दौरान विवाद हुआ था। इस दौरान फैसला लिया गया था कि अगर 7 नवंबर तक उनकी मांगों पर विचार नहीं किया गया तो 8 नवंबर को हांसी के एसपी कार्यालय का घेराव किसान करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here