जलपाईगुड़ी ट्रैन हादसे में तीन की मौत, 20 घायल। भारतीय रेलवे के अधिकारी ने कहा, बचाव कार्य लगभग पूरा हो गया है।

उत्तर बंगाल के जलपाईगुड़ी जिले के मयनागुड़ी स्थित दोमहनी के पास गुरुवार शाम को पांच बजे के करीब बीकानेर एक्सप्रेस की 12 बोगियां बेपटरी हो गईं।

हादसे में चार-पांच बोगी पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई हैं। घटना गुरुवार को शाम करीब 5:15 बजे की है। इस ट्रेन हादसे में अब तक पांच यात्रियों की मौत की पुष्टि की जा चुकी है। वहीं 50 लोग घायल हुए हैं, उनको अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मौके पर करीब 35 एंबुलेंस पहुंच चुकी थीं और सभी घायलों को अस्पताल ले जाया गया था।

गुनीत कौर चीफ पीआरओ नॉर्थ-ईस्ट फ्रंटियर रेलवे ने कहा है कि रेस्क्यू ऑपरेशन लगभग पूरा हो चुका है। हमारी टीमों ने प्रभावित यात्रियों को सफलतापूर्वक बचाया है।

अब तक कम से कम 40 घायलों को बचाया गया, जिनमें से 24 को जलपाईगुड़ी जिला अस्पताल और 16 को मोइनागुरी अस्पताल ले जाया गया है। बताया जा रहा है कि वहां और पास के किसी भी स्टेशन पर कोई ठहराव नहीं था और ट्रेन इलाके से गुजर रही थी।

इसलिए फौरन मदद के लिए बचाव दल को आने में समय लगा। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने ट्रेन हादसे में मृतकों के परिजनों के लिए 5 लाख रुपए के मुआवजे का ऐलान किया है।

घायलों को 1 लाख रुपए और मामूली रूप से जख्मियों को 25 हजार रुपए दिए जाएंगे। रेल मंत्री भी शुक्रवार सुबह दिल्ली से घटनास्थल के लिए जाएंगे।

Share It